प्राकृतिक सम्पदाओं को संरक्षित कर पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा क्षेत्र: शिवशरण कुशवाहा

0
6

झांसी। बुन्देलखण्ड क्षेत्र में अन्ना पशुओं की बड़ी समस्या है, जिस कारण किसानों की जहां फसलें चैपट हो जाती हैं, वहीं सड़कों पर घूमने वाले जानवरों के कारण सड़क दुर्घटनाएं भी बढ़ती है और गौवंश की मृत्यु हो जाती है। इस समस्या को प्राथमिकता पर दूर कराया जायेगा साथ ही हर खेत को सिंचाई हेतु पानी की सुविधा की जायेगी, जिससे किसान भाई अच्छी उपज करके वाजिब दाम प्राप्त कर सकें। ललितपुर जनपद प्राकृतिक सम्पदा और धार्मिक धरोहरों का धनी है, जिन्हें संरक्षित और पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने का कार्य कांग्रेस पार्टी करेगी। यह बात झांसी-ललितपुर सीट से भारतीय कांग्रेस, जन अधिकार पार्टी व अपना दल के प्रत्याशी शिवशरण कुशवाहा ने जनसम्पर्क के दौरान जनता के बीच कही।
उन्होंने आज संसदीय क्षेत्र ललितपुर के जाखलौन में चुनाव कार्यालय का उदघाटन किया। तत्पश्चात क्षेत्रों में जनसम्पर्क करते हुए कांग्रेस के लोकसभा चुनाव में घोषणा पत्र के बिन्दुओं को जनता के सामने रखा और उन्हें पूरा करने का वादा किया। पूर्व केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्य मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने कहा कि कांग्रेस ने घोषणा पत्र में हर वर्ग को रोजगार और गांव से शहरी क्षेत्रों का सर्वांगीण विकास कराने का संकल्प लिया है। प्रत्याशी शिवशरण ने पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य और समर्थकों के साथ जाखलौन ब्लाॅक बिरधा कार्यालय का उदघाटन किया। उसके बाद बालाबेहट, वंट, जामुनधारा, धौर्रा, नगर पंचायत पाली आदि क्षेत्रों में जनसम्पर्क किया गया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष ललितपुर दुर्गाप्रसाद कुशवाहा, बहादुर अहिरवार एडवोकेट सदस्य उप्र कांगे्रस कमेटी, डाॅ चंद्रकेसी जैन, नवनीत किलेदार, राजेंद्र पाल, एचपी पटेल, कुलदीप पाठक, वीरेंद्र रजक आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY