शुद्ध पेयजल की उपलब्धता हम सबका मानव अधिकार है

0
12

झांसी। परमार्थ समाज सेवी संस्थान ने जल जन जोड़ो अभियान के द्वारा स्वच्छ जल के मुद्दों पर जागरूकता पैदा करने और लोगों को जल साक्षर बनाने के लिए शनिवार को ईलाइट चैराहे पर जागरुकता शिविर लगाया गया। इसमें लोगों ने पानी बचाने का संकल्प लिया। साथ ही सामाजिक कार्यकर्ताओं ने जल संरक्षण के महत्व को लेकर लोगों को जानकारी दी और विश्व जल दिवस, उसके विषय और महत्व से अवगत कराया। पानी बचाने का संकल्प लेने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया गया। कार्यक्रम में अतिथि जन सूचना अधिकार मंच के अध्यक्ष मुदित चिरवारिया ने परमार्थ के साथियों के साथ मिलकर जल संरक्षण का संदेश देते हुए नीले रंग के गुब्बारे आकाश में उड़ाए।
साथ ही लोगों को यह तथ्य बताया गया कि पूरी पृथ्वी पर, पानी एक सबसे महत्वपूर्ण घटक है। प्रत्येक जीव के जीवित रहने के लिए जल आवश्यक है। पानी की आवश्यकता सूक्ष्म कीटाणु, जानवरों, पौधों से लेकर सभी जीवों को होती है। वास्तव में मानव शरीर 75ः पानी से युक्त होता है।
जल बिना जीवन संभव नहीं है, कुछ लोग इसका दुरुपयोग कर रहे हैं जिसके कारण लाखों लोग पानी की कमी का सामना कर रहे हैं।
इसी के साथ लोगों को यह भी जानकारी दी गयी कि जल जन जोड़ो अभियान के तहत बुंदेलखंड क्षेत्र में जल संरचनाओं के पुनरुद्धार और जीर्णोद्धार के लिए अभियान चल रहा है। इस अभियान के तहत जल संरचनाओं के पुनरुद्धार के लिए कार्ययोजना तैयार की जाएगी।
कार्यक्रम में परमार्थ संस्था के कार्यकर्ता शिवानी सिंह, संध्या, अमरदीप, सोनिया, सत्यम, हिमांशु और दीपल भी मौजूद रहे। इस जागरुकता कैम्प में सैंकड़ों लोगों ने सहभागिता की और जल संरक्षण का संकल्प लिया।

LEAVE A REPLY