अगले तीन वर्षों में गाँव-गाँव पहुँचेगा पेयजल: योगी

0
25

झाँसी। पेयजल की समस्या को लेकर बुन्देलखण्ड के जिन क्षेत्रों में लोग अभी परेशान है उनके लिए जल्द ही खुशहाली का समय आने वाला है। पेयजल पाइपलाइन योजना के तहत अगले तीन वर्षों में बुन्देलखण्ड के सभी ग्रामों को जोड़कर इस समस्या का निदान जड़ से कर दिया जायेगा। इसके साथ ही बुन्देलखण्डवासियों के और भी तमाम दर्द जल्द ही खत्म होंगे। यह बात सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने झाँसी चित्रकूट धाम मण्डल की समीक्षा के उपरांत मीडिया से रू-ब-रू होते हुये कही।
झाँसी दौरे पर आये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकार की प्राथमिकता वाली तमाम योजनाओं की झाँसी एवं चित्रकूट धाम मण्डल में संचालन की स्थिति की समीक्षा करने के उपरांत प्रधानमंत्री द्वारा आगामी समय में दिये जाने वाली सौगातों का विश्लेषण किया। तदोपरान्त पत्रकारों से वार्ता करते हुये योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुन्देलखण्ड में बनने वाला एक्सप्रेस-वे इस क्षेत्र के लिए आने वाले समय में किसी संजीवनी से कम नहीं होगा कम समय सेलोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुँच पायेंगे। एक्सप्रेस-वे एक तरह से यहाँ के लोगों के लिए लाइफलाइन बनेगा। इसके अतिरिक्त रेलवे की कार्यशाला के उद्घाटन तथा अमृत योजना जैसी महत्वपूर्ण योजनाओं की सौगात प्रधानमंत्री द्वारा आगामी 15 फरवरी को दिये जाने की जानकारी देते हुये उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड को लेकर केन्द्र और राज्य सरकारें बेहद ही उदार है। यही वजह है कि यहाँ के जनप्रतिनिधियों की कोई भी सिफारिश को नजरअंदाज नही किया जाता है। एक सवाल के जबाव में उन्होंने कहा कि संगठन और जनप्रतिनिधियों के साथ आहूत हुई आज की बैठक से उन तमाम परियोजनाओं को अंतिम रूप मिला जिनकी सौगात आने वाले समय में प्रधानमंत्री यहां के लोगों को देने वाले है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि समीक्षा बैठक में दोनों मण्डलों के अधिकारियों को इस बात के कडे“ निर्देश दिये गये है कि दोनों मण्डलों में कानून व्यवस्था किसी भी सूरत में लचर न हो। अपराधियों पर कड़ी निगाह रखी जाये और समय रहते उन्हें जेल भेजा जाये। मुख्यमंत्री के साथ केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र देव सिंह सहित द ोनों मण्डलों के सभी विधानसभाओं के विधायक एवं सांसद तथा संगठन के तमाम पदाधिकारी एवं सभी जिलों के अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY