महानगर को सुन्दर व व्यवस्थित किया जायेगा: मण्डलायुक्त

0
15

झांसी विकास प्राधिकरण की बैठक में मण्डलायुक्त ने लगाई जीएम जल संस्थान की फटकार

झांसी। महानगर को सुन्दर व व्यवस्थित करने हेतु 12 विकास कार्यों को लगभग 13 करोड़ से अधिक अवस्थापना निधि आवंटित करने का जेडीए बोर्ड बैठक में अनुमोदन कर दिया गया है। जल संस्थान को पैसा दिये जाने के बाद भी 9 माह से कोई कार्य न करने पर अल्टीमेटम देते हुये सारे प्रोजेक्ट की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश। नगर निगम व राजस्व विभाग 15 दिन में भ्रमण कर ट्रांसपोर्ट नगर की स्थापना हेतु भूमि चिन्हित करें। सारन्ध्रा नगर आवासीय योजनान्तर्गत पानी के बिल की वसूली हेतु कैम्प लगायें जायें। अवर अभियंता जल संस्थान केी जिम्मेदारी है कि तत्काल बकाया वसूल किया जाये। झांसी से खजुराहो राष्ट्रीय राजमार्ग 76 के दुरूस्तीकरण के कार्यो का तकनीकी टीम द्वारा सत्यापन कराये जाने के निर्देश।
यह समस्त निर्देश मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने आयुक्त कार्यालय स्थित चैम्बर में झांसी विकास प्राधिकरण की 75वीं बोर्ड बैठक की अध्यक्षता करते हुये दिये। बोर्ड बैठक में प्राधिकरण की 74वीं बोर्ड बैठक की अनुपालन आख्या की समीक्षा करते हुये जल संस्थान के कार्यों पर सख्त नाराजगी व्यक्त की गई। धनराशि उपलब्ध होने के बाद भी कोई कार्य न करने में महाप्रबन्धक जल संस्थान को फटकार भी लगायी गयी।
बोर्ड बैठक में नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि जल संस्थान को मण्डी रोड चैड़ीकरण हेतु पाइपलाइन शिफ्ट करने हेतु लगभग 1 करोड़ 33 लाख की धनराशि व बेतवा बिहार आवासीय योजना में जलापूर्ति हेतु लगभग 30 लाख रूपये 9 माह पूर्व दिये गये थे परन्तु जल संस्थान द्वारा कोई कार्य नहीं किया गया। मण्डलायुक्त ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि सारे प्रोजेक्ट की रिपोर्ट दें। साथ ही जहां-जहां से आपको धनराशि प्राप्त हुई हो वहां क्या कार्य करना था उसकी लिखित जानकारी दे।
बोर्ड बैठक में तय हुआ कि सारन्ध्रा नगर आवासीय योजना में 508 भूखण्ड में मात्र 251 भूखण्डों पर मकान बनाकर आवासित हैं। इन आवंटियों का जल मूल्य का बिल रू. 2869440 भेजा गया है। जिसमें लगभग 299611 रूपये की वसूली कर ली गयी है। शेष बिल की वसूली हेतु कैम्प लगाये जाने के निर्देश दिये गये।
मण्डलायुक्त ने लगभग दो माह बीत जाने के बाद भी महानगर में आने के लिये 5 मुख्य मार्ग पर प्राधिकरण द्वारा स्वागत तथा आगमन के लिये धन्यवाद बोर्ड न लगाने पर तथा कमिश्नरी कैम्प के पार्क का उच्चीकरण व रैन वाटर हार्वेस्टिंग के कार्य प्रारम्भ न करने पर नाराजगी व्यक्त की।
जेडीए की बैठक में 13 करोड़ से अधिक अवस्थापना निधि से महानगर की 5 सड़कों की मरम्मत, झांसी से ग्वालियर एनएच-44 से कृषि विश्वविद्यालय तक जाने वाली सड़क का निर्माण महानगर के 10 चैराहों में एलईडी डिस्प्ले लगाया जाना, तहसील सदर कैम्पस में पार्क तथा 2 रैन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ ही जन सुविधा केन्द्र का निर्माण, पुलिस लाइन में वीवीआईपी विजिट हेतु सेफ हाउस का निर्माण कार्य सहित अन्य कार्यों को अनुमोदित किया गया।
इस मौके पर जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी, एसडीएम सदर अनुनय झा, सचिव त्रिभुवन विश्वकर्मा, नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया, वरिष्ठ प्रबन्धक आवास विकास राकेश चन्द्र, टीपी एन.के. पुष्करना, जीएम जल संस्थान आर.के. यादव, एसईपीडब्ल्यूडी कृष्ण कुमार, एटीपी जितेन्द्र सिंह आदि उपस्थित रहे। बैठक का संचालन अधिशासी अभियंता जेडीए आर.पी. द्विवेदी ने किया।

LEAVE A REPLY