किसान आधुनिक तरीके से कृषि कार्य कर आमदनी बढ़ायें:जिलाधिकारी

0
4

झांसी। उत्पादन बढ़ाने के लिये किसान आधुनिक पद्धति से कृषि कार्य करें। आय दोगुनी हो उसके लिये किसान सब्जी उत्पादन व बगीचा लगायें। सरकार से अनुदान भी प्राप्त होगा। भौगोलिक परिस्थितियों के अनुसार फसल चयन करने से भी लाभ होगा। ऐसी खेती करें जिसमें लागत कम और उत्पादन ज्यादा हो। पशुपालन से भी आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सकता है। क्षेत्र में अन्ना जानवरों की समस्या से निजात पाने के लिये हमें ही प्रयास करने होंगे क्योंकि जानवर हमारे हैं। उन्हें घर से निकाल कर समस्या का हल नहीं, बल्कि उन्हें रख कर गोबर व गौ मूत्र से खेती करने से हल निकलेगा और उत्पादन में सुधार होगा।

यह उद्गार जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी ने ग्राम कोट, न्याय पंचायत भोजला विकास खण्ड बड़ागांव के प्राइमरी स्कूल में ‘द मिलियन फार्मर्स स्कूल’ के तहत चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में किसान पाठशाला का शुभारम्भ करते हुये व्यक्त किये।

उन्होंने कहा कि किसान पाठशाला की सार्थकता तभी है जब आप पाठशाला से जो सीख कर जायें उसे कृषि कार्य में इस्तेमाल करते हुये अपनी फसल में सुधार लायें। उन्होंने कहा कि लगातार 4 दिवस आपको पाठ्यक्रम के अनुसार पशुपालन, मण्डी, उद्यान विभाग अपनी विभागीय योजना के साथ कैसे लाभ प्राप्त करे आदि की जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान अन्ना जानवरों की सुरक्षा हेतु आगे आयें तथा गांव में एक कमेटी बनाये, जो प्रधान सबसे पहले कमेटी गठित कर बाड़ा तैयार कर लेगा उसे पुरूस्कृत किया जायेगा। सरकार आपको जमीन व तारबाड़ी उपल्बध करायेगी, शेष कार्य आपको करना है। उन्होंने कहा कि पानी की उपलब्धता के अनुसार फसल का चयन हो। अच्छी विधि से खेती हो ताकि उत्पादन बढ़ सके। रासायनिक खादों के स्थान पर जैविक खाद व गोबर-गौमूत्र का प्रयोग हो जिससे लागत कम होगीा उत्पादन बढ़ेगा तथा आमदनी भी बढ़ेगी।

पाठशाला में मण्डी सचिव राजेश वर्मा ने विभाग द्वारा किसानों के लिये चल रही योजनाओं सहित दुर्घटना में किसानों को दिये जाने वाली क्षतिपूर्ति की जानकारी दी। सीवीओ डा. योगेश एस. तोमर ने बताया कि आज की समस्या अन्ना पशु है। आज प्रण लें और गौ माता को सुरक्षित रखें।

उद्यान विभाग के के.पी. गुप्ता ने आय बढ़ोत्तरी के लिये विभागीय योजना बाग लगाने व औषधीय पौधों की खेती करने की जानकारी दी। संचालन दीपक कुमार कुशवाहा ने तथा आभार जिला कृषि अधिकारी दुर्गेश कुमार सिंह ने व्यक्त किया।

इस मौके पर ए.बी.एस.ए. श्रीमती दीप्ति रिछारिया सहित ग्राम प्रधान देवी सिंह, ग्राम विकास अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY