सूबे के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद आज करेंगे निर्माण कार्य का श्रीगणेश

0
37

– 227 करोड़ की लागत से होगा 49 किलोमीटर मार्ग का चौड़ीकरण
झाँसी। अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रही गरौठा से चिरगांव तक की सड़क के दिन फिरने वाले हैं। दो साल के अंदर इस सड़क पर वाहन फर्राटा भरते नजर आएंगे। गुरुवार को सूबे के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास करने आ रहे हैं। इसी के साथ विश्व बैंक के सहयोग से लोक निर्माण विभाग सड़क निर्माण शुरू कर देगा। इसके बाद इस मार्ग को राठ से जोड़ा जाएगा झाँसी से हमीरपुर जाने के लिए चिरगांव वाया गरौठा होकर जाना ज्यादा आसान है। यह रास्ता कम दूरी तय करने पर हमीरपुर तक पहुंचा देता है, लेकिन सड़क खराब होने से यह दूरी करीब 50 किलोमीटर अधिक हो जाती है। नतीजतन लोग मऊरानीपुर के रास्ते से जाना ज्यादा मुफीद समझते हैं। हालांकि, मऊरानीपुर से भी सफर लंबा पड़ता है, लेकिन सड़क की हालत अच्छी होने से ज्यादा तकलीफदेह नहीं होती। राठ-चिरगांव मार्ग को बनवाने के लिए कई बार आवाज उठाई गई लेकिन किसी भी सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। चार जनवरी 2017 को गरौठा के तत्कालीन विधायक दीप नारायण सिंह यादव ने इस मार्ग का प्रस्ताव पास कराया और तीन चरणों में सड़क बनाने पर सहमति बनी। कुल 168 किलोमीटर सड़क निर्माण के लिए 716 करोड़ रुपये का बजट आंका गया। विधानसभा चुनाव आ जाने के कारण यह प्रस्ताव फाइलों में दबकर रह गया। चुनाव निबटते ही सूबे में सत्ता बदली और जवाहरलाल राजपूत विधायक बने। उन्होंने अपनी पार्टी की सरकार से इस मार्ग को बनवाने के प्रयास किए। नए सिरे से प्रोजेक्ट बनाया गया जिसमें पहले चरण में चिरगांव से बाईपास, रामनगर, बघेरा, गुरसरांय, गरौठा, मोतीकटरा, धसान नदी पुल होते हुए राठ तक 48 किलोमीटर, दूसरे चरण में राठ से हमीरपुर तक 75 किलोमीटर और तीसरे चरण में राठ से गरौठा तक 42 किलोमीटर लंबी सड़क बनाना तय हुआ। इसके लिए गुड़गांव की एनकेसी संस्था को ठेका दिया गया है।
गुरुवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या गुरसरांय में सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास करेंगे। यह सड़क 227.17 करोड़ रुपये की लागत से 49.17 किलोमीटर तक बनाई जाएगी जिसमें 191 करोड़ रुपये की सहायता विश्वबैंक से मिल रही है। विश्व बैंक के अधिशासी अभियंता राकेश बाबू गुप्ता ने बताया कि इस मार्ग पर अभी साढ़े तीन से सात मीटर तक चौड़ाई है जिसे बढ़ाकर सात से दस मीटर तक करना है। साथ ही पेंड सोल्डर का भी निर्माण कराया जाएगा। यह सड़क राजमार्ग संख्या 42 से जोड़कर ककरबई, मोतीकटरा, कुरेछा घाट होते हुए गरौठा तक बनाई जाएगी जिससे चिरगांव से हमीरपुर का सफर करीब 50 किलोमीटर कम हो जाएगा।
आज आएंगे केशव प्रसाद मौर्य
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मध्याह्न 12.20 बजे राजकीय हैलीकाप्टर से खेर इंटर कॉलेज गुरसरांय में बनाए गए हैलीपैड पर उतरेंगे तथा वहां से कार द्वारा इंटर कॉलेज पहुंचेंगे। वहां 12.30 बजे पार्टी पदाधिकारियों की बैठक लेने के बाद अपराह्न एक बजे विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा करेंगे तथा गरौठा से चिरगांव मार्ग चौड़ीकरण व उच्चीकरण सहित अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करने के बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। वह अपराह्न ढाई बजे लखनऊ के लिए उड़ान भरेंगे।

LEAVE A REPLY