यातायात प्रभारी जी, जरा इन्हे भी देख लो, कैसे सरेआम उड़ा रहे नियमों की धज्जियां

0
120

झांसी (रिपोर्ट इमरान खान) । महानगर में यातायात पुलिस सहित समाजसेवी संस्थाओं द्वारा युवाओं को ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए जोर-शोर से अभियान चलाए जा रहे हैं लेकिन धरातल पर रिजल्ट शून्य नजर आ रहे हैं। नाबालिग छात्र-छात्रायें मुख्य मार्गों सहित गलियों में तेज गति से दोपहिया वाहन दौड़ाते दिखते हैं। न तो इन्हें अभिभावकों द्वारा रोका जा रहा है और न ही कोई इसके प्रति अपनी जिम्मेदारी समझ रहा है।
आज इलाईट चौराहे पर जब हमारी टीम ने हकीकत जानने की कोशिश की तो हमारे कैमरे में कई छात्र-छात्रायें ऐसे कैद हुए जिन्होंने हेलमेट नहीं लगाया था। कुछ तो वाहन चलाते समय मोबाईल पर बात भी करते दिखे। इतना ही नहीं यहां ड्यूटी पर लगे यातायात के सिपाहियों और होमगार्डों की फौज महज दिखावा के लिए लगी दिखाई दी। इनके सामने से कई वाहन चालक निकल रहे थे इन्हें रोकने- टोकने वाला कोई नहीं था।
रोजाना मुख्य मार्गों पर एक-एक दोपहिया वाहन पर 3-4 युवा सवार होकर यातायात नियमों की सरेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं। बिना हैल्मेट रैश ड्राइविंग करते हुए युवा सरपट दोपहिया वाहन धड़ल्ले से चला रहे हैं। महानगर के इलाईट का मुख्य चौराहा यहां से प्रतिदिन काफी संख्या में विद्यार्थी गुजरते हैं लेकिन इन पर कार्रवाई न के बराबर होती है। कभी कभार ऐसे विद्यार्थियों पर कार्रवाई करते हुए चालान काटे जाते हैं लेकिन अगले दिन से फिर स्थिति पुराने ढर्रे पर लौट आती।
गौरतलब है कि युवाओं को ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए यातायात पुलिस और समाजसेवी संस्थाओं द्वारा विशेष अभियान चलाए जाते हैं। इसके तहत विभिन्न स्कूलों में पहुंच कर ट्रैफिक नियमों की पालना के प्रति छात्र-छात्राओं को जागरूक भी किया जा रहा है। ट्रैफिक कंट्रोल करने की ट्रेनिंग देने और लोगों को जागरूक करने के लिए विद्यार्थियों को सड़कों पर भी उतारा जाता है। बड़े-बड़े बैनरों और ऊंची आवाज में लग रहे नारों के बीच विद्यार्थियों द्वारा रैलियां निकाली जाती हैं लेकिन रैलियों के बाद इनमें से ही काफी नाबालिग विद्यार्थी ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने में जुट जाते हैं। ट्रैफिक पुलिस कर्मी भी इन बिगड़ैल दोपहिया वाहन चालकों पर नकेल कसने में नाकाम दिख रहे हैं।

LEAVE A REPLY