आदत में बदलाव लायें, तभी कुपोषण से मिल सकती है मुक्ति : अवस्थी

0
20

डीएम ने जन जागरूकता रैली का किया शुभारम्भ
झांसी। कुपोषण की रोकथाम लोगों को सही जानकारी देकर की जा सकती है। ग्रामीण क्षेत्र में आदत में बदलाव लाकर हम नौनिहालों को कुपोषण से बचा सकते हैं। व्यवहार परिवर्तन से सीधे हम अपने परिवार को कुपोषण व अनेकों बीमारियों से बचा सकते हैं, बस यह बात सभी को बताना होगा।
यह विचार जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी ने विकास खण्ड बामौर के ग्राम इसकिल में पोषण माह के अंतर्गत कुपोषण रोकथाम हेतु जन जागरूकता पैदा करने हेतु आईसीडीएस, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, पंचायत विभाग व ग्राम्य विकास विभाग के समन्वय से रैली को झंडी दिखाकर रवाना करते हुये व्यक्त किये।
उन्होंने जनपद के प्रत्येक ग्राम में ऐसी जागरूकता रैलियों का आयोजन करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जन आन्दोलन से हम जल्द ही कुपोषण मुक्त हो जायेंगे। उन्होंने प्रधानों से भी भावनात्मक अपील करते हुये कहा कि ऐसा करने से गांव में माहौल बनेगा और जनमानस में बदलाव आयेगा।
जिला कार्यक्रम अधिकारी रामेश्वर पाल ने जिलाधिकारी को पोषण स्थल का निरीक्षण करवाते हुये बताया कि किशोरियों व गर्भवती महिलाओं को आयरन की गोलियां व बच्चों को टीकाकरण कराये जाने की जानकारी दी।
इस मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह, ग्राम प्रधान, मुख्य सेविका श्रीमती प्रेमलता सहित स्कूली बच्चे, अभिभावक व आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, आशा, ए.एन.एम. आदि उपस्थित रहीं।

LEAVE A REPLY