तुलसी की खेती से होगा अधिक मुनाफा : सीडीओ

0
22

झांसी। किसान पारम्परिक खेती के साथ उद्यान विभाग की योजनान्तर्गत ऐलोवीरा व तुलसी की खेती करें, इसमें अनुदान के साथ लागत कम मुनाफा अधिक है और बानी भी कम लगता है। प्रत्येक विकास खण्ड में दो दिवसीय के.सी.सी कैम्प आयोजित किया जायेगा। प्रधानमंत्री को सूचित किया जाये, जिन के पास के.सी.सी नहीं है, वह कैम्प में के.सी.सी बनवा लें। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजनान्तर्गत उद्यान विभाग में स्प्रिंकलर सेट हेतु आवेदन 30 अगस्त तक किये जा सकेगे। जो किसान लाभ लेना चाहते है वह तत्काल आवेदन करें। पर्यावरण कराया जाना अनिवार्य है।
यह निर्देश मुख्य विकास अधिकारी निखिल टी फुंडे ने विकास भवन सभागार में आयेजित किसान दिवस के अवसर पर अधिकारियों को दिये। उन्होंने साफ शब्दो में कहा कि किसानों के लिये संचालित योजनाओं का प्रचार-प्रसार कराते हुये उनका लाभ उन्हें दिलाया जाये।
सीडीओ ने कहा कि सरकार का लक्ष्य कि किसानों की आय दोगुनी हो, शासन द्वारा उद्यान विभाग की योजनाओ का किसान लाभ ले। रबी में प्याज लहसुन की खेती करें इसमें बीज मुक्त दिया जा रहा ही 12000 रू. हेक्टेयर अनुदान है। इसी प्रकार गैंदा की खेती में भी अनुदान दिया जा रहा। ऐलोवीरा खेती में 18670 रू. हेक्टेयर अनुदान दिया जा रहा है। किसान इन्ह अपनाये और आय दो गुनी करें।
बैठक में जनपद के सभी ब्लॉको से आये किसानों ने अपनी समस्या को रखा। गुलाब सिंह बरगढ़ ने भोजला मण्डी में धान क्रय केन्द्र खोले जाने की मांग करते हुये कहा कि किसानों को फसल बेचने हेतु भागना नहीं पड़ेगा।
बान सिंह मऊरानीपुर ने मांग करते हुये कहा कि बीजो की सब्सिडी का पैसा अभी तक किसानों के खातो में नहीं गया है, किसान ब्याज पर पैसा लेकर बीज खरीद रहे है। अतः पैसा जल्द खातो में पहुंचाया जाये।
किसान सुरेन्द्र सिंह पुरातनी ने उद्यान विभाग द्वारा स्प्रिकंलर सेट हेतु आवेदन तिथि 15 अगस्त से बढ़ाकर 30 अगस्त करने की मांग की जिसे सीडीओ द्वारा तत्काल मानते हुये विभाग को निर्देश दिये कि 30 अगस्त तक आवेदन स्वीकार, किये जाये और किसानों को लाभ दिया जाये। किसानों को 80 व 90 प्रतिशत छूट दी जा रही है।
ग्राम पुलिया निवासी बाल किशन नामदेव ने बेतवा प्रखण्ड नहर द्वितीय एवं नहर बेतवा तृतीय हमीरपुर शाखा एवं सभी रजवाहा को एक रूटिन निर्धारित किया जाये, जिससे धान खेती पूर्ण रूप से हो सके और पर्याप्त पानी मिल सके।
इस दौरान सुरेन्द्र सिंह पुष्प पुरैनिया ने ग्राम पुरैनिया के पास व गुरसराय नहर के पास कई जगहों पर विश्व बैंक खण्ड झांसी द्वारा निर्माणधीन खण्ड गरौठा से चिरगांव पर सेन्टर लाइन बदलने के लिये पत्र दिया। उन्होंने अधिग्रहण हो रही भूमि का मुआवजा दिलाये जाने की मांग की।
छन्दी लाल कुशवाहा निवासी ग्राम पठाकरका बंगरा, ने शिकायती पत्र देते हुये कहा प्रार्थी का 5 एकड़ का चक है जिसमें एक एकड़ सरकारी चारागाह है। जिसमें राजाराम कुशवाहा आदि ने अवैध कब्जा कर लिया तथा मुझे फसल नहीं बोने दे रहे साथ ही केसिंग के लिये भी मना कर रहे। अतः पुलिस व लेखपाल से तारफ्रेसिंग करायी जाये।
बैठक में डीडी कृषि रामप्रताप ने विभागीय योजनाओं की जानकारी दी एडी रेशम ने अपनी विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। इस मौके पर अधिशाषी अभियंता विद्युत डी यादुवेन्द्र, सिंचाई संजय कुमार अधीक्षक नारायण एम.के जैन, सी.वी.ओ डॉ. बाई एस.तोमर, सहित अन्य विभागों के अधिकारी व बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY