योग को जीवन का अभिन्न अंग बनाये : संदीप

0
34

-जिला जेल में योग केन्द्र का शुभारम्भ
झाँसी। जिला कारागार में निरुद्ध कैदियों के स्वस्थ और निरोगी काया के लिए भारतीय योग संस्थान द्वारा संचालित योग केंद्र का शुभारंभ डिप्टी जेलर संदीप भास्कर को मुख्य आतिथ्य एवं मां सरस्वती एवं गायत्री के चित्र पर पुष्पांजलि एवं दीपांजली से संपन्न हुआ ।इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए योग संस्थान के जिला प्रधान रविंद्र त्रिवेदी ने साधक बन्दिओं को विभिन्न आसनों का योगाभ्यास कराया।
प्रांतीय सदस्य विपिन अग्रवाल , कोषाध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने ताड़ासन , कोणासन , नाभासन के साथ अनुलोम विलोम योग क्रियाओं का योगाभ्यास कराया। मंडलीय कारागार के जेलर कैलाश चंद्र के सेवानिवृति और स्थान्तरित होकर कारागार में आये जेलर रविकांत सिंह के पदभार ग्रहण करने पर शुभकामनाएं दी गयीं। मुख्य अतिथि संदीप भास्कर ने सभी योग साधकों को नियमित योग करते रहने की शपथ दिलाते हुये कहा कि योग को जीवन का अभिन्न अंग बताये। उन्होंने शारीरिक,मानसिक और आध्यात्मिक लाभ के लिए भारतीय संस्थान पहल को कल्याणकारी बताया । जिला प्रधान कार्यक्रम की अध्यक्षता करते रहे श्री त्रिवेदी ने पांच आदर्श साधकों का सम्मान करते हुए कहा कि हर व्यक्ति को स्वस्थ रहते हुए योग के मार्ग से अन्य लोगों को भी योग से जोड़ने का अनूठा प्रयास करना होगा । कारागार के केंद्र प्रमुख संतराम ने मंचासीन अतिथियों का बैच अलंकरण कर स्वागत किया । कार्यक्रम का संचालन पवन झा एवं सहायक शिक्षक राकेश कुमार ने व्यक्त किया।
इस अवसर पर महिला योग केंद्र की प्रमुख श्रीमती नीलम अग्रवाल , जिला मीडिया प्रभारी पवन झा सारथी, जिला कोषाध्यक्ष अनिल अग्रवाल, महाराज सिंह, सहायक शिक्षक वीरेंद्र कुमार राय मौजूद रहे। आदर्श साधकों में नंदराम जी,राम जी यादव, राजाराम, सुरेश कुमार, राकेश कुमार आदि अनेक साधकों ने नियमित योगाभ्यास करते रहने का विश्वाश दिलाया। नवागंतुक जेलर श्री रविकांत ने नियमित रूप से महिला बन्दिओं के लाभ हेतु केंद्र शुभारम्भ करने के लिए संस्थान के अधिकारिओं को भरोसा दिलाया। कार्यक्रम समापन पर सभी बन्दिओं को फलाहार ग्रहण कराया गया।

LEAVE A REPLY