पौधारोपण अभियान में शिथिलता पर पशुपालन और कृषि विभाग को फटकार

0
29

झांसी। वृक्षारोपण से सम्बन्धित सूचनायें सही समय पर व सही दें गलत सूचनायें देने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। 15 अगस्त को होने वाले वृक्षारोपण का जो लक्ष्य विभिन्न विभागों को आवंटित किया गया है। उसकी सूचना देते हुये साइड चिन्हित हो गई तथा गड्ढे खोद लिये गये तत्काल उपलब्ध करायें ताकि उनका सत्यापन किया जा सके। विभाग सूचनायें लिखित अथवा ई-मेल के माध्यम से डीएफओ को दे ताकि सूचनाओं को पीएमएस साइड पर अपलोड किया जा सके। 15 अगस्त को मण्डल में लगभग 28 लाख पौधे लगाये जाने है।
यह निर्देश मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने आयुक्त सभागार में मण्डलीय वृक्षारोपण कार्यक्रम की समीक्षा करते हुये अधिकारियों को दिये। मण्डलायुक्त ने अब तक की प्रगति पर कड़ा असंतोष व्यक्त किया और कहा कि वृक्षारोपण की मानीटरिंग उच्च अधिकारियों द्वारा प्रत्येक सप्ताह हो रही है, वृक्षारोपण अभियान को गंभीरता से लिया जाये।
समीक्षा करते हुये अनेको विभाग द्वारा अभी तक कोई काम न करने पर फटकार लगाते हुये कहा कि न साइड का सिलेक्शन और न गड्ढे खोदे गये कैसे लक्ष्य पूरा होगा। झांसी कृषि विभाग को 15 अगस्त पर 6700 पौधारोपण करना है अभी तक कोई काम न करने पर उन्होंने फटकर लगाते हुये कार्य करने व वृक्षारोपण को गंभीरता से लेने की नसीहत दी।
आवास विकास द्वारा अब तक काम न करने पर अनुपस्थित रहने पर अधिशाषी अभियंता आवास विकास से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिये। 6400 के सापेक्ष अभी तक स्थान चिन्हित नहीं किया गया।
इसी क्रम में 1-2 साइड चिन्हित करने पर औद्योगिक विकास, रेशम विभाग, उद्योग विभाग, प्राविधिक शिक्षा रेलवे विभाग आदि को ताकीद करते हुये प्रगति लाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अतिशीघ्र साइड को चिन्हित कर गड्ढे खोदे जाने का कार्य प्रारम्भ करें ताकि 15 अगस्त 2018 के लक्ष्य की पूर्ती की जा सके। उन्होंने सीधे और साफ शब्दो में कहा कि लक्ष्य हर हाल में पूर्व किया जाना है।
मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने श्रम विभाग को निर्देश दिये विभागीय लक्ष्य पूर्ती के लिये समस्त क्रेसर ईकाइयों को साइड पर 100 पेड़ लगाये जाने के साथ ही अन्य को भी प्रेरित करें। उन्होंने परिवहन अधिकारियों से भी लक्ष्य पूर्ती के लिये ट्रांसपोर्टर को जनसहभागी बनाये जाने का सुझाव दिया।
पशुपालन विभाग के मण्डलीय अधिकारी को फटकार लगाते हुये मण्डलायुक्त ने कहा कि अभी तक प्रगति बेहद खराब है 10 दिन से कोई काम नहीं किया गया। 12800 का लक्ष्य है कोई गड्ढा नहीं खोदा गया, क्या एक दिन में हजारो गड्ढे खोदे जा सकेंगे जब गड्ढे नहीं खोदेगे तो वृक्ष कहां लगायेगे।
मण्डलायुक्त ने सुझाव देते हुये कहा कि वर्षा हो रही है यदि गड्ढ़े खोद लिये गये है तो वृक्षारोपण कर ले ताकि उनके जीवित रहने की सम्भावनायें अधिक रहे।

LEAVE A REPLY