पहली बरसात ने ननि के सफाई व्यवस्था की खोली पोल, जगह-जगह जल भराव से महानगर हुआ जलमग्न

0
57

झांसी। मौसम की पहली बरसात से महानगर में जगह-जगह हुये जल भराव से जहां नगर निगम के स्वच्छ महानगर के दावे की पोल खोल दी। वहीं स्थान-स्थान पर मुख्य स्थानों तथा सड़को में जलभराव से लोगों का घण्टो आवागमन ठप्प रहा है।
इससे नगर निगम द्वारा सफाई व्यवस्था बेहतर बताये जाने का खुलासा हो गया तथा लोग जल भराव से परेशान होकर सड़को पर खड़े ननि के जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही व उदासीनता के प्रति नाराजी व्यक्त करते हुये नजर आये।
पेयजल एवं गर्मी से हलाकान लोगों द्वारा मंदिरो व मस्जिदो में धार्मिक कार्यक्रम आयोजित कर इन्द्र देवता एवं अल्लाह ताला से पानी बरसाने के लिये विनती, अरदास की जा रही थी। लोगों की प्रार्थना व अरदास को स्वीकार करते हुये इन्द्रदेवता ने आज भारी तादात में पानी की बरसात की। जिससे जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली वहीं जगह-जगह हुये जल भराव से जनसामान्य को भारी कठिनाईयों का मुकाबला भी करना पड़ा। नालों, नालियां आदि की सफाई नहीं होने से सड़को पर बहने वाले बरसाती पानी ने नदियों के प्रवाह का रूप धारण कर लिया है। कहीं-कहीं तो बरसात का पानी घरो में घुस गया। जिससे घरो का दृश्य तालाब मय हो गया है।
महानगर के नारिया बाजार, सर्राफा बाजार, पंचकुइयां मंदिर के पास, बाहर दतिया गेट से पठौरिया, ईदगाह तक नई बस्ती, तालपुरा, खुशीपुरा, ग्वालियर रोड़, आई.टी.आई, सीपरी बाजार, नगरा, नौ नम्बर, आवास विकास, नंदनपुरा, अलीगोल आदि जगह पर हुये जल भराव से सड़को पर तालाब सा दृश्य बन गया। जिसमें लोगों का आवागमन जाम रहा है। प्रथम बरसात में जहां महानगर पानी मय हो गया तो मुख्य वर्षा के दौरान महानगर का क्या हाल होगा यह आने वाला समय ही बता पायेगा। लेकिन इस से नगर निगम के नुमाइन्दो को सावधान होकर चेत जाना चाहिये। जिससे वर्षा के पानी से लोगों को परेशान नहीं होना पड़े।

LEAVE A REPLY