रेलवे ने शुरू की तत्काल टिकट पर 100 फीसद रिफंड देने की व्यवस्था

0
37

झांसी। रेलवे यात्रियों के लिए थोड़ी राहत की खबर है। अब तत्काल टिकट पर भी रेल यात्री पूरा रिफंड ले सकते हैं। रेलवे अब आपको तत्काल टिकट पर फायदा देने जा रहा है, लेकिन कुछ शर्तों के साथ। रेलवे ने 5 शर्तों पर तत्काल टिकट पर 100 फीसद रिफंड देने की व्यवस्था शुरू की है। नई व्यवस्था के तहत काउंटर और ई-टिकट दोनों पर रिफंड मिलेगा। नए नियम के मुताबिक, ट्रेन के शुरुआती स्टेशन पर 3 घंटे देरी से आने, रूट डायवर्ट होने, यात्रियों के बोर्डिंग स्टेशन से ट्रेन के नहीं जाने और कोच के डैमेज होने व बुक टिकट वाली श्रेणी में यात्रा की सुविधा नहीं मिलने पर यात्रियों को 100 फीसद रिफंड मिलेगा। अगर यात्री को लोअर श्रेणी में यात्रा की सुविधा मुहैया कराई जाती है तो रेलवे किराए के अंतर के साथ ही तत्काल का चार्ज भी लौटाएगी।
तत्काल टिकट बुकिंग की सुविधा अर्जेंट परिस्थिति के लिए मुहैया कराई गई हैं, ताकि कम समय में यात्रियों को टिकट मिल सकें। यात्रियों को इस सुविधा के अंतर्गत बुकिंग के लिए सामान्य किरायों के अलावा तत्काल टिकट शुल्क का भी भुगतान करना होता है। तत्काल कोटा के अंतर्गत टिकट बुकिंग रेलवे काउंटर पर होती है। हालांकि तत्काल टिकट बुकिंग अब आसानी से रेलवे की वेबसाइड आइआरसीटीसी से ऑनलाइन भी कराई जा सकती है। एसी श्रेणी में तत्काल टिकट बुकिंग सुबह 10 बजे से शुरू होती है, जबकि नॉन एसी क्लास की बुकिंग सुबह 11 बजे से होती है। तत्काल टिकट बुकिंग यात्रा से एक दिन पहले कराई पड़ती है। एक पीएनआर पर अधिकतम चार यात्रियों की ही टिकट बुकिंग हो सकती है।
ट्रेन के रवाना होने से कुछ समय पहले चार्ट तैयार होता है। अगर कंफर्म रिजर्वेशन किसी आरएसी या फिर प्रतीक्षा सूची वाले टिकट होल्डर को दिया जाता है, तो उनकी सीट कंफर्म मानी जाएगी। आइआरसीटीसी के मुताबिक, अगर यात्री आरएसी या वेट लिस्टेड टिकट को कैंसल कराना चाहते हैं तो ट्रेन के रवाना होने से 30 मिनट पहले उन्हें ऐसा करना होगा। जिसके बाद कुछ कटौती के साथ आपको टिकट का पैसा रिफंड हो जाएगा।

LEAVE A REPLY