प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में झांसी मंडल प्रदेश में अव्वल

0
53

चित्रकूट मण्डल दूसरे, गोंडा तीसरे व मिर्जापुर चौथे स्थान पर
झांसी। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) का लाभ देने में प्रदेश में झाँसी मंडल अव्वल रहा है। यहाँ पीएमएमवीवाई पखवाड़ा के समापन पर 5 जुलाई तक 98 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। इसी तरह प्रदेश की टॉप-10 सूची में चित्रकूट मण्डल दूसरे, गोंडा तीसरे और मिर्जापुर मण्डल चैथे पायदान पर है।
अपर निदेशक डॉ॰ सुमन बाबू मिश्रा ने बताया कि पहली बार गर्भवती होने वाली महिला और प्रसव बाद जच्चा-बच्चा के बेहतर स्वास्थ्य के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना चलाई जा रही है। इसके तहत प्रथम प्रसव पर पांच हजार रुपये तीन किश्तों में दिये जाते हैं। इसके अंतर्गत मण्डल में 57,326 प्रथम बार गर्भवती हुई महिलाओं को लाभ देने का लक्ष्य रखा गया था, जिसमें मण्डल ने 56,252 यानि लगभग 98 प्रतिशत महिलाओं को लाभ पहुँचाकर प्रदेश में पहला स्थान प्राप्त किया है। इस योजना का उद्देश्य है कि सही मौके पर प्रथम बार गर्भवती हुई महिला को आर्थिक मदद मिल सके, जिससे कि वह अपने पोषण का ख्याल रख सके। इसी श्रेणी में 86.77 प्रतिशत के साथ चित्रकूट मण्डल दूसरे, 88.27 प्रतिशत के साथ गोंडा तीसरे और 73.63 प्रतिशत के साथ मिर्जापुर मण्डल चैथे पायदान पर है।
ये है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना- पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं के लिये यह योजना चलाई जा रही है। इसके तहत पंजीकरण कराने के साथ गर्भवती को पहली किश्त के रूप में 1000 रुपए दिए जाते हैं। प्रसव पूर्व कम से कम एक जाँच होने पर गर्भावस्था के 6 माह बाद दूसरी किश्त के रूप में 2000 रुपए और बच्चे के जन्म का पंजीकरण होने तथा बच्चे के प्रथम चक्र का टीकाकरण पूर्ण होने पर तीसरी किश्त में 2000 रुपए दिए जाते हैं। यह सभी भुगतान गर्भवती के बैंक खाते में किये जाते हैं। जिसका आधार से लिंक होना जरूरी है।

LEAVE A REPLY