डीएम ने किया परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण

0
46

ललितपुर। जनपद ललितपुर में पूरे प्रदेश की भांति माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित होने वाली हाईस्कूल, इण्टरमीडिएट की परीक्षायें बोर्ड द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शुरू हो गयी। आज प्रथम दिन जिलाधिकारी, ललितपुर मानवेन्द्र सिंह ने परीक्षा केन्द्रों का औचक दौरा कर बोर्ड परीक्षाओं को नकलविहीन एवं सुचितापूर्वक कराये जाने की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम राजकीय इण्टर कॉलेज, ललितपुर का दौरा किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने प्रत्येक कक्ष में जाकर संचालित परीक्षा का अवलोकन किया। राजकीय इण्टर कॉलेज के प्राचार्य राजेन्द्र कुमार त्रिपाठी ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि हाईस्कूल की गृह विज्ञान की परीक्षा में कुल 390 परीक्षार्थियों ने नामांकन कराया था, जिसमें से 30 अनुपस्थित रहे और 360 परीक्षार्थी उपस्थित हैं। इसी प्रकार इण्टरमीडिएट की हिन्दी की परीक्षा में कुल 292 परीक्षार्थियों ने पंजीकरण कराया था, जिसमें से 02 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे और कुल 290 परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे हैं। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने पी0एन0 इण्टर कॉलेज, ललितपुर का निरीक्षण किया। यहां जिलाधिकारी ने देखा कि दो कक्षों तथा एक बरामदे में बच्चे फर्श पर बैठकर परीक्षा दे रहे थे, जिस पर जिलाधिकारी ने आगामी परीक्षाओं के दिन पर्याप्य फर्नीचर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने इसके उपरान्त प्रधानाचार्य कक्ष में लगे केन्द्रीयकृत सी0सी0 टी0वी0 मॉनीटर में एक साथ सभी कक्षों में परीक्षा संचालन की स्थिति का निरीक्षण किया। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने दीवान रघुनाथ सिंह इण्टर कॉलेज, अजीतापुरा का निरीक्षण किया। परीक्षा केन्द्र के सामने दो पहिया वाहनों के बड़े बेतरतीब ढंग से लगाये जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की और केन्द्र व्यवस्थापक को आगामी दिनों में वाहनों का ठीक से लगाने के निर्देश दिये, जिससे उड़नदस्ते की टीमें सीधे विद्यालय तक पहुंच सकें। यहां पर जिलाधिकारी ने सी0सी0टी0वी0 मॉनीटर का भी निरीक्षण किया। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने एस0डी0एस0 हिन्दी मीडियम विद्यालय का निरीक्षण किया। यहां पर इन्सपेक्टर अनुज सिंह गंगवार ड्यूटी पर उपस्थित पाये गये, जबकि कॉन्सटेबल अजय पाल, कॉन्सटेबल जयनारायण तथा कॉन्सटेबल किरन बेदी अनुपस्थित पायी गईं। जिलाधिकारी ने इनके खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिये। प्रधानाचार्य द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि विद्यालय में 18 कक्षों में परीक्षा संचालित की जा रही है। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने मां शारदा बालिका इण्टर कॉलेज, आजादपुरा का निरीक्षण किया। यहां पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट के रूप में मण्डी सचिव की तैनाती की गयी थी, जो ड्यूटी पर अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी ने मण्डी सचिव से स्पष्टीकरण तलब किया है। द्वितीय पाली में जिलाधिकारी ने तहसील महरौनी तथा मड़ावरा के विद्यालयों का निरीक्षण किया। इस निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सरस्वती मंदिर इण्टर कॉलेज, मड़ावरा, सरस्वती मंदिर बालिका इण्टर कॉलेज, मड़ावरा, दीवान प्रताप सिंह इण्टर कॉलेज, सैदपुर तथा डॉ0 रघुवीर सिंह इण्टर कॉलेज, सजनाम तिराहा का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों से शासन द्वारा नकलविहीन परीक्षा कराये जाने के सम्बंध में दिये गये दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने उप जिलाधिकारी को भी निर्देशित किया कि वे लगातार भ्रमण में रहें और नकल की कोई सूचना पाये जाने पर कठोर कार्यवाही करें।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक सलमान ताज पाटिल, जिला सूचना अधिकारी पीयूष चन्द्र राय जिलाधिकारी के साथ उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY