साहब! मेरे पति और बेटे को झूठा फंसाया गया

0
27

झांसी। कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत 5 दिन पूर्व एक व्यक्ति द्वारा आत्महत्या करने के मामले में पुलिस ने उसी क्षेत्र के कुछ लोगों को शिकायत के आधार पर घटना में अप्रत्यक्ष रूप से शामिल मानते हुये मुकद्मा पंजीकृत कर दिया था। आज पीड़ित परिवार ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर मुकद्में में झूठा फसाये जाने का आरोप लगाते हुये उचित कार्यवाही कर न्याय दिलाने की मांग की है।
कुछ दिन पूर्व ओरछा गेट निवासी नन्दू का बगीचा में रहने वाली ऊषा देवी अपने घर के बाहर बैठी हुई थी तभी उसका पड़ोसी उसके दरवाजे पर आकर उसको गाली गलौज करने लगा इतना ही नहीं पड़ोसी ने यह धमकी भी दी कि वह उन लोगों को किसी झूठे मुकदमे में फंसा देगा यह कहकर वहां से चला गया और शाम 4 बजे उसने अपने ही घर में तेजाब पी लिया जिससे उसकी मृत्यु हो गई। उक्त मामले में कोतवाली पुलिस ने उषा देवी के पति रामरतन कुशवाहा उसके पुत्र निक्की कुशवाहा और उसके देवर को इस मामले में अपराधी मानते हुए रिपोर्ट दर्ज कर ली आज उषा देवी अपने पूरे परिवार के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंची जहां उन्होंने इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की उन्होंने कहा कि अगर जांच में हमारे परिवार का कोई भी सदस्य दोषी पाया जाए तो उसको सजा दी जाए अन्यथा इस मामले से मुझे और मेरे परिवार को बचाया जाए।

LEAVE A REPLY