घर से भागे तीन नाबालिगों को पुलिस ने चाइल्ड लाइन को सौंपा

0
11

झांसी। रेल सुरक्षा बल के उप निरीक्षक घनेन्द्र सिंह व सहायक उप निरीक्षक शशिभूषण मिश्रा, आरक्षक रमेश चन्द्र विश्वकर्मा तथा महिला आरक्षक अंकिता के साथ गस्त के दौरान प्लेटफार्म नं. 1 पर एक नाबालिग लड़की नये पुल के पास संदिग्धावस्था में दिखी। जिसके पास जाकर पूछताछ करने पर बताया कि वह आने माता-पिता से झगड़ा कर मुम्बई जाने के लिए आयी है तथा अपना नाम खुशबू (काल्पनिक) पुत्री अषीश उम्र 16 वर्ष जाति रैकवार निवासी थाना कुलपहाड़ जिल महोबा उ.प्र. बताया। नाबालिग लड़की के सम्बन्ध में निरीक्षक प्रभारी को व रेलवे चाइल्ड लाईन को सूचित किया गया।
वहीं दूसरे मामले में उप निरी. घनेन्द्र सिंह हमराह सउनि हरपाल सिंह यादव, आ. डी.एस. मीणा, म.आ. मिताली को प्लेटफार्म नं. 4 व 5 पर 2 बच्चे (1 लड़की व 1 लड़का) संदिग्धावस्था में बैठे मिले। पूछताछ में दोनों ने अपना नाम व पता ईशा रानी टिर्की पुत्री तृणी तातिस टिर्की उम्र करीबन 17 वर्ष निवासी ग्राम कुसुमताल थाना कांसाबेल जिला जसपुर छत्तीसगढ़ व अंकित पुत्र कृपा शंकर लकड़ा उम्र करीबन 17 वर्ष निवासी बकालो थाना दरिमा अंबिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ बताते हुए दोनों ने अपने-अपने घरवालों को बिना बताये साथ मिलकर दिल्ली जा रहे थे। दोनों को समझा बुझाकर थाना लाया गया।
तीनों नाबालिगों को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है।

LEAVE A REPLY