जिस तरह मनुष्य नश्वर है, ठीक उसी तरह विचार भी नश्वर है: डीएम

0
9

झांसी। आज सम्पूर्ण जनपद में बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर की 128वीं जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गयी। जनपद में उन्हें याद करते हुए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से बाबा साहेब को पुष्पांजली अर्पित की गयी।
जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने गांधी सभागार कलैक्ट्रेट में बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए कहा कि जिस तरह मनुष्य नश्वर है, ठीक उसी तरह विचार भी नश्वर है। जिस तरह पौधे को पानी की जरुरत पड़ती है, उसी तरह एक विचार की प्रचार-प्रसार की जरुरत होती है वरना दोनो मुरझा कर मर जाते है। उन्होने कहा कि आज के परिवेश में बाबा साहेब के विचार अधिक मूल्यवान है, हमे उन्हें आत्मसात करना होगा। उन्होने बताया कि भारत का संविधान देने और दलितों के मसीहा माने जाने वाले डाॅ. भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को हुआ। आपके पिता रामजी मालोजी सकपाल और माता का नाम भीमाबाई था। डाॅ. अम्बेडकर जन्म से ही प्रतिभा सम्पन्न थे। उन्होंने वकालत की पढ़ाई की, उन्हें भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘‘भारत रत्न’’ ये सम्मानित किया गया। इस अवसर पर एडीएम नगेन्द्र शर्मा सहित आमजनों ने भी अपने विचार प्रस्तुत करते हुए बाबा साहेब को याद किया गया।
इस मौके पर नगर मजिस्ट्रेट रामप्रकाश, प्रशासनिक अधिकारी प्रदीप कुमार त्रिवेद्वी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।
वहीं उ.प्र. परिवहन निगम के डिपो प्रांगण में बोधिसत्व ज्ञान के प्रतीक भारत रत्न संविधान निर्माता सामाजिक न्याय के मसीहा बाबा साहब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती समारोह क्षेत्रीय प्रबंधक सुग्रीव राय, सेवा प्रबन्धक तुकाराम एवं सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक रामनवट की उपस्थिति में मनायी गयी। क्षेत्रीय प्रबंधक श्री राय द्वारा लोकतंत्र के महापर्व लोकसभा चुनाव 2019 में अपने मताधिकार प्रयोग करने की शपथ दिलायी गयी। जयन्ती समारोह में जय सिंह सचान, श्रीबाबू सचान, एस.के. जैन, सीनियर फोरमैन आर.सी. सुमन आदि उपस्थित रहे तथा बाबा साहब की जीवनी पर अपने विचार रखे।
इस अवसर पर रामप्रताप, रामगोपाल कौशिक, जगत नारायण वर्मा, दीपक भारती, लखन सिंह, एस.के. तिवारी, बृजेन्द्र कुमार मिश्रा, श्रीराम राजपूत, हरिशंकर लक्षकार आदि उपस्थित रहे। संचालन चन्दन सिंह यादव ने एवं मनोज कुमार ने आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY