आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन व अन्य शिकायतें ऑनलााइन करें: डाॅ. सारंगी

0
7

लोकतंत्र के महापर्व में सभी की सहभागिता जरूरी: डाॅ. फुलिया

झांसी। लोक सभा प्रत्याशी, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि व आमजनमानस सी विजिल एन्ड्रायड मोबाइल एप्लीकेशन पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन व अन्य शिकायतें आॅनलाइन कर सकते हैं। सभी का निस्तारण व कार्यवाही समय से की जाएगी। ऐसा करने से कम समय में अधिक कार्य हो सकेगा। ऐसे बूथ जहां धमकाये जाने व दबाव डालकर वोट न डालने की संभावना है तो अवश्य सूचना दें या स्वयं उपस्थित होकर अवगत करायें, कार्यवाही की जायेगी। मतदेय स्थल से लगभग 200 मीटर के अंदर भीड़ जमा न हो ताकि बेहतर ढंग से निर्वाचन सम्पन्न हो सके। मतदान देश का महापर्व है, लोकतंत्र का महापर्व है। यह ऐसा त्यौहार है जो पूरी साल चलता है अतः इसमें सभी अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें।
यह उद्गार लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के पूर्व शांति व पारदर्शी तथा शुचिता के साथ सम्पन्न कराये जाने हेतु पुलिस प्रेक्षक डाॅ. शान्तनु सारंगी ने विकास भवन सभागार में प्रत्याशियों व राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन, निर्वाचन व्यय व उसके रखरखाव की जानकारी देते हुए व्यक्त किये। बैठक में सामान्य प्रेक्षक डाॅ. रेनु एस. फुलिया तथा व्यय प्रेक्षक पी. कृष्णराव भी उपस्थित रहे।
बैठक में राजनैतिक दलों के सदस्य व प्रत्याशियों को सम्बोधित करते हुए पुलिस प्रेक्षक डाॅ. सारंगी ने कहा कि जिले में संवेदनशील बूथों को चिन्हित कर पर्याप्त पुलिस बल को डिप्लाय कर दिया गया है यदि फिर भी कोई समस्या है तो अवश्य जानकारी दें। सूचना तथ्यात्मक व पूर्ण शुद्ध हो ताकि कार्यवाही की जा सके। भ्रमित सूचना देकर समय बर्बाद न करें। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में सभी सहयोग करें, साथ ही पार्टी अपने एजेन्टों को प्रशिक्षण दें ताकि माॅकपोल सहित अन्य निर्वाचन कार्यवाही सकुशल सम्पन्न हो सके।
राजनैतिक दल के सदस्य व प्रत्याशियों के साथ बैठक में सामान्य प्रेक्षक डाॅ. फुलिया ने कहा कि यह लोकतंत्र का महापर्व है और इसमें आप सभी की सहभागिता महत्वपूर्ण है। लोगों को जागरूक करें ताकि अधिक से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। मतदान प्रातः 7 बजे से सायं 6 बजे तक है। निर्वाचन आयोग की मंशा है कि मतदान प्रतिशत में इजाफा हो। उन्होंने कहा कि इस बार सम्पूर्ण लोकसभा क्षेत्र के मतदेय स्थलों पर वीवी पैट का इस्तेमाला हो रहा है अतः मतदाता को बतायें कि बटन दबाने के बाद वीवी पैट को अवश्य देखें और सुनिश्चित कर लें कि जिसे आपने अपना मत दिया है उसे ही आपका मत पहुंचा है। उन्होंने माॅकपोल के समय पोलिंग एजेन्टों को उपस्थित रहने का भी सुझाव दिया।
बैठक में व्यय प्रेक्षक पी. कृष्णराव ने विभिन्न दलों के प्रत्याशी व पदाधिकारियों को सुझाव दिया कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन क्षेत्र में मतदान दूषित करने के लिए शराब व पैसों के वितरण की जानकारी सी विजिल एन्ड्रायड मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से दर्ज करायें ताकि सभी शिकायतों का समय से निस्तारण व कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने समस्त प्रत्याशी व पदाधिकारियों से कहा कि निर्वाचन हेतु समस्त लेन-देन चैक के माध्यम से किया जाये तो बेहतर होगा। जो व्यय किया जाये उसका आयोग द्वारा जारी रेट लिस्ट से अवश्य मिलान कर लें ताकि गड़बड़ी न हो। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों के व्यय रजिस्टर की जांच 15 अप्रैल 2019 को 11 बजे कार्यालय मुख्य कोषाधिकारी कलेक्ट्रेट में की जाएगी। प्रत्याशी स्वयं या अपने प्रतिनिधियों को भेजकर रजिस्टर की जांच करा सकते हैं।
बैठक में डिप्टी डीओ व अपर जिलाधिकारी वित्त/राजस्व नगेन्द्र शर्मा ने राजनैतिक दलों और उम्मीदवारों के मार्गदर्शन के लिए आदर्श आचार संहिता अंतर्गत सामान्य आचारण जैसे सभायें, जुलूस, मतदान दिवस, मतदेय स्थल के सम्बन्ध में जानकारी दी। उन्होंने निर्वाचन लड़ने वाले प्रत्याशियों द्वारा निर्वाचन व्यय के लेखे के रखरखाव की प्रक्रिया के विषय में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 77 के अनुसार नाम-निर्देशन की तारीख से परिणाम घोषित होने तक, दोनों तारीखों को सम्मिलित करते हुए निर्वाचन के दौरान प्रत्येक प्रत्याशी स्वयं या उसके निर्वाचन एजेन्ट द्वारा निर्वाचन के सम्बन्ध में सभी व्ययों चाहे वह उसके द्वारा उपगत या प्राधिकृत किये गये हों या उसके निर्वाचन एजेन्ट द्वारा अलग-अलग एवं सही लेखा रखे जाएंगे।
उन्होंने निर्वाचन व्यय के लिए प्रत्येक प्रत्याशी द्वारा बैंक खाते का खोला जाना, प्रत्याशी द्वारा बनाये रखा जाने वाला निर्वाचन व्यय रजिस्टर, निर्वाचन खर्चों को दैनिक लेखे के रजिस्टर, कैश तथा बैंक रजिस्टर भरने की प्रक्रिया प्रत्याशी की ओर से अतिरिक्त निर्वाचन एजेन्ट की नियुक्ति व व्यय का लेखा दाखिल करने की प्रक्रिया के सम्बन्ध में समस्त जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के अन्तर्राष्ट्रीय केन्द्र में भारत निर्वाचन आयोग के सामान्य प्रेक्षक डाॅ. रेनू एस. फुलिया मोबाइल नम्बर 8931079441, पुलिस प्रेक्षक डाॅ. शान्तनु सारंगी मोबा. नं. 8931079453 तथा व्यय प्रेक्षक पी. कृष्णराव 8931079449 अपने कैम्प कार्यालय व आवासीय हैं। अतः कोई भी समस्या निर्वाचन सम्बन्धित है तो उसकी जानकारी मोबाइल द्वारा या स्वयं उपस्थित होकर दी जा सकती है।
इस मौके पर जिला निर्वाचन अधिकारी शिव सहाय अवस्थी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डाॅ. ओ.पी. सिंह, मुख्य विकास अधिकारी निखिल टीकाराम फुण्डे, अपर जिलाधिकारी प्रशासन बी. प्रसाद, अपर पुलिस अधीक्षक देहात राहुल मिठास सहित विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रत्याशी व पदाधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY